Harmful Effects of Abortion
/ Categories: Stop Abortion
Visit Author's Profile: SuperUser Account

Harmful Effects of Abortion

गर्भपात के भयंकर दुष्परिणाम !

 विषवृक्षोपि संवर्ध्य स्वयं छेत्तुसाम्प्रतम् ।।

अपने द्वारा लगाया हुआ विषवृक्ष भी काटा नहीं जाता तो जिस गर्भ को स्त्री-पुरूष मिलकर पैदा करते है, वह स्वयं उसकी हत्या कैसे कर सकते । गर्भ मे आया हुआ जीव संत-महापुरूष बनकर अनेक लोगों को सन्मार्ग में लगाता , अपना तथा औरों का कल्याण करता , परन्तु जन्म से पहले ही उसकी हत्या कर देना कितना महान पाप है और इस पाप के कितने दुष्परिणाम भी हो सकते हैं ।

·       स्तन कैंसर की सम्भावना में 30% की वृध्दि ।

·      महिलाओं में हार्मोन्स का स्तर कम होने से फिर से बच्चे होने की सम्भावना में कमी ।

·      यदि संतान होती है तो उसके कमजोर और अपंग होने की सम्भावना ।

·      मसिक धर्म में खराबी, कमरदर्द की शिकायत ब़ढ़ जाती है तथा माँ की मृत्यु भी हो सकती है ।

·      सर्वाइकल कैंसर का ढ़ाई गुना व अंडाशय (ओवेरियन) कैंसर का 50% अधिक खतरा ।

·      मनोबल में कमी, सिरदर्द, चिड़चिड़ापन, आत्महत्या के विचारों व मानसिक तनाव में वृध्दि ।

·      गर्भपात के समय इन्फेक्शन होने पर जानलेवा पी.आई.डी, (पेल्विक इन्फ्लेमेटरी डिसीज) की सम्भावना अधिक हो जाती है ।

·      गर्भपात करानेवाली 50% महिलाओं में फिर से गर्भपात होने की सम्भावना बढ़ जाती है ।

 

 

Previous Article No to Cesarean Delivery
Next Article सिजेरियन डिलीवरी खतरनाक
Print
169 Rate this article:
No rating

Please login or register to post comments.