Vedanta In Life Articles

महान बनने की मधुमय युक्ति
महान बनने की मधुमय युक्ति

 

सुबह जब नींद खुले तो संकल्प करें कि आज का दिन तो आनंद में जायेगा । मुझे आत्मविद्या पानी है, योगविद्या सीखनी है । खुद का नाम लेना है । समझ लो मेरा नाम मोहन है । सवेरे उठकर खुद को कहना : 'मोहन !'

बोले : 'हाँ बापूजी !' मान लो कि बापूजी अपने साथ बात कर रहें हैं ।

         'तुझे क्या चाहिए ?'

        'मुझे तो आत्मविद्या, योगविद्या और लौकिकविद्या तीनों को पाना है ।' शांति, आनंद... कुछ न करें । फिर संकल्प करें : ॐ... हरि ॐ ॐ ॐ... हरि ॐ... शक्ति, भक्ति, योग्यता हरि ॐ... हरि ॐ... हरि ॐ...' फिर थोड़ा ध्यान करके हथेलियों को देखकर बिस्तर छोड़ें । इससे तीनों विद्याओं में प्रगति होगी ।

Previous Article समृद्धि और सफलता चाहिए तो....
Next Article महानता के दिव्य सूत्र

Vedanta In Life Articles List