गर्भावस्था में पानी की कमी हो तो क्या करें ...
Visit Author's Profile: Admin

गर्भावस्था में पानी की कमी हो तो क्या करें ...

गर्भावस्था में पानी की कमी से बहुत सारी परेशानियां हो सकती हैं । आपके बच्चे की सेहत के लिये यह अच्छा नहीं है।

 

गर्भावस्था में कभी-कभी ऐसी स्थिति भी आती है जब पानी की मात्रा बच्चेदानी में कम हो जाती है | इसका पता हमें सोनोग्राफी से लगता है कि गर्भवती महिला में पानी की कमी है | ये स्थिति आपके होने वाले बच्चे के लिए अच्छी नहीं होती । जब महिला गर्भवती होती है तो उनकी बच्चेदानी में एक विशेष प्रकार का द्रव्य बनता है जिसे भ्रूण अवरण द्रव कहते है । ये द्रव्य बच्चे को सुरक्षा प्रदान करता है।

 

 

गर्भावस्था में पानी की कमी से होने वाली समस्याएँ 

 

(Problems with Water Scarcity During Pregnancy)

 

1. बच्चे का सम्पूर्ण विकास बांधित हो सकता है।

 

2. पानी की कमी से उनका भरपूर पोषण नहीं हो पाता । 

 

3. पानी की कमी के कारण बच्चे के जन्म में देरी भी हो सकती है।

 

*बच्चेदानी में पानी की कमी से बचने के कुछ असरदार उपाय* 

 

1. जितना हो सके आराम करें ।

 

2. कम से कम 8 से 10 गिलास रोजाना पानी पिएं ।

 

3. ऐसे फलों और सब्जियों का सेवन करें जिनमें पानी की मात्रा ज्यादा हो जैसे खीरा, टमाटर , तरबूज , पतागोभी, फूलगोभी, मूली, पालक, अंगूर, सेब इत्यादि।

 

4. जब आप आराम करें तो बाईं तरफ करवट लेकर सोयें क्योंकि  ऐसा करने पर रक्त का सर्कुलेशन बच्चेदानी की तरफ बढ़ जाता है जिससे भ्रूण अवरण द्रव बढ़ता है ।

 

5. नारियल पानी का सेवन अधिक से अधिक करें 

 

6. कम से कम दिन में दो गिलास दूध पियें ।

 

7. लम्बे समय तक बैठकर घर की साफ सफाई झाड़ू-पोछा  न करें ।

 

8. शराब का सेवन बिल्कुल भी ना करें क्योंकि शराब आपके होने वाले बच्चे के लिए ठीक नहीं है, शराब शरीर में पानी की कमी लाती है जिससे भ्रूण अवरण द्रव की मात्रा कम हो जाती है 

 

इसलिए गर्भावस्था में भरपूर मात्रा में पानी पियें ।

Previous Article गर्भ में ही बना दें बच्चों को सुसंस्कारी
Print
768 Rate this article:
4.7

Please login or register to post comments.